ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
छत्तीसगढ़यू.पी.

ज्योतिष विद्या को प्रोत्साहित करने के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने शुरू की ऑनलाईन कोर्स की व्यवस्था

 बनारस हिन्दु विश्वविद्यालय में ज्योतिष विभाग के वरिष्ठ प्रोफेसर डा.शत्रुघ्न त्रिपाठी को मिली अध्यापन की जिम्मेदारी

Views

बनारस.रमेश शर्मा

उत्तरप्रदेश. ज्योतिष विद्या में रूचि रखने वालों के लिए बनारस हिन्दु विश्वविद्यालय ने अध्ययन का काम को आॅनलाईन करके काफी आसान बना दिया है।इससे देश और विश्व के किसी कोने में रह ज्योतिष शास्त्र में अतिरिक्त अध्ययन का लाभ लिया जा सकेगा.   मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने बनारस हिन्दु विश्वविद्यालय में ज्योतिष विभाग के वरिष्ठ प्रोफेसर डा.शत्रुघ्न त्रिपाठी को ज्योतिष शास्त्र में “वृहज्जातकम” कोर्स का प्रमुख बना कर उन्हे आॅन लाईन अध्यापन की जिम्मेदारी सौंपी है। इसके तहत आॅन लाईन प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों को सप्ताह में 4 दिन तक विडियोग्राफी के माध्यम से ज्योतिष विद्या का विस्तृत अध्यापन का कार्य कराया जाऐगा।. “बीएचयू” में इस वर्ष जूलाई से अक्टूबर माह का प्रथम सत्र में आॅनलाईन प्रवेश का काम प्रारंभ कर दिया गया है।

ज्योतिष के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धियों के चलते राष्ट्रपति पुरूस्कार से सम्मानित डा.शत्रुघ्न त्रिपाठी ने आज बताया कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने ज्योतिष विद्या को प्रोत्साहित करने के लिए विद्यार्थियों के लिए नाम मात्र की प्रवेश शुल्क में समुचित सुविधाऐं प्रदान की हैं। बनारस हिन्दु विश्वविद्यालय यूनिवर्सिटी इस कोर्स को उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थियों को आचार्य ( एम ए समकक्ष) की  उपाधि प्रदान करेगी।

डा.त्रिपाठी ने बताया कि ज्योतिष विद्या का आॅनलाईन अध्यापन के दौरान विद्यार्थियों की जिज्ञासा एवं जटिल सवालों का भी जवाब दिया जाएगा। डा.त्रिपाठी ने बताया कि ज्योतिष शास्त्र में “वृहज्जातकम” कोर्स की परीक्षा भी आयोजित की जाऐगी। इस विद्या में पारंगत हो जाने से ज्योतिष के क्षेत्र में जटिल सवालों के पुष्ट उत्तर आसानी से दिए जा सकते हैं।

भारत पोस्ट ऐप के लिए यहाँ क्लिक करें

1 Comment

Comments are closed.