ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
इलेक्शन 19मध्य प्रदेशवीडियो

चुनावी खलबली – इलेक्शन अपडेट #2

Election Post #2

Views

चुनावी खलबली अब पुरे शबाब पर आने को है ज्यों ज्यों चुनाव नज़दीक आयेंगे हलचल और तेज़ होती जाएगी. लोकसभा चुनाव में टिकेट को लेकर जबरजस्त घमासान शुरू हो चुका है. विदिशा लोकसभा क्षेत्र से शिवराज अपनी पत्नी साधना सिंह को मैदान में उतारने की तयारी कर रहे है, वहीँ साधना सिंह का अपने ही घर में विरोध शुरू हो चूका है उनके रिश्तेदार रविश चौहान ने साधना सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है उन्होंने कहा की यदि साधना सिंह को विदिशा से टिकेट दिया गया तो वे उनके खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे वहीं भाजपा का कोर वोटर ब्राम्हण समाज भी इस निर्णय के विरोध में उतरा आया है युवा ब्रम्हां विकास परिषद् की प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य एवं भाजपा नगर मंडल गंजबासोदा के पूर्व अध्यक्ष राजेश शर्मा को भाजपा संगठन द्वारा अकारण कथित राजनितिक द्वेष भावना से हटाए जाने के कारण ब्राम्हण समाज नाराज है वहीँ यह मामला तब गंभीर हो जाता है जब सागर और विदिशा दोनों जिले के ब्राम्हण संगठनों द्वारा यह धमकी दी जाति है की अगर साधना सिंह को विदिशा से टिकेट दिया गया तो दोनों जिलों में ब्राम्हणों द्वारा योजनाबद्ध तरीके से भाजपा के विरुद्ध मतदान कराया जाएगा यह हम मानवेन्द्र शर्मा के हवाले से कह रहे हैं जो की युवा ब्राम्हण विकास परिषद् के प्रदेशध्यक्ष हैं. आपको बता दें की विदिशा लोकसभा क्षेत्र से लगातार दो बार सांसद रह चुकीं सुषमा स्वराज इस बार चुनावी मैदान में नहीं होंगी.

अब चैप्टर नम्बर दो में आपको बताएँगे की भाजपा प्रदेश चुनाव समिति की बैठक ख़त्म हुई इसे लेकर भाजपा नेता विनय सहस्त्रबुद्धे और प्रभात झा का बयान भी आया दोनों ही हम आपको परोस रहे हैं.

सूत्रों के अनुसार बैठक में किसी भी नाम पर सहमती नहीं बन पाई है इसलिए अब 29 नामों की सूचि लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह संकट मोचन अमित शाह के द्वार हाजिरी लगाने की तयारी में हैं. खैर ये तो बात थी ड्रेसिंग रूम की, अब देखते हैं ओन फील्ड क्या चल रहा है भोपाल में केंद्र सरकार के खिलाफ जिला कांग्रेस का प्रदर्शन टी शर्ट के इस फैशन में युवाओं ने देश का चौकीदार चोर है वाला टी शैर्ट पहन कर विरोध जताया कार्यकर्ताओं ने लोगो से मिलकर बताया की कैसे देश का चौकीदार चोर है. जब इसी भाषा को भारतीय राजनीती का स्टैण्डर्ड मान लिया गया हो और इसका प्रयोग शीर्ष नेतृत्व कर रहा हो तो हम इसपर कोई ज्ञान ना चेप कर एक नै बात बताते हैं, वो यह है की इस पूरे प्रदर्शन में जनसंपर्क मंत्री पी सी शर्मा भी शामिल हुए जब चुनाव आयोग किसी भी बैनर पोस्टर के प्रयोग पर आदर्श आचार सहिंता के तहत रोक लगा के रखा है तो यह इनोवेशन गजब का है सांप भी मर जाए और लाठी भी ना टूटे. इस पुरे खेल में राम मंदिर की चर्चा ना हो तो ऐसा लगता है जैसे की डाल में तडका ना हो, फिल्म राम जन्मभूमि का विरोध हुआ, विवादित वसीम रिज़वी की फिल्म पर फतवा जारी करते हुए फिल्म की एक्ट्रेस को इस्लाम से खारिज किये जाने की बात कही, आरोप है की फिल्म में सियासत के साथ खिलवाड़ दो समुदायों के बीच नफरत फ़ैलाने वाला दृश्य है, यह खबर हम all इंडिया उलेमा बोर्ड के हवाले से आपको बतला रहे हैं.

हम खबर नहीं खबर के पीछे का राग भी आपको बतलाते चलेंगे. वहीँ भाजपा युवा मोर्चा ने कांग्रेस के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए युवाओं से भैंस चराने और बैंड बजवाने के लिए प्रशिक्षण देने को लेकर कमलनाथ के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.