ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
छत्तीसगढ़रायपुर

हाथियों ने गोद की अबोध बच्ची के साथ महिला को कुचल कर मार डाला

Views

 

पत्थलगांव/ 18 जूलाई
रमेश शर्मा

छत्तीसगढ़ के जशपुर, धरमजयगढ़ और सरगुजा वन मंडल के सरहदी इलाकों में घूम कर उत्पात मचा रहा 14 जंगली हाथियों का बड़ा दल ने आज फिर एक महिला और उसकी अबोध बच्ची को कुचल कर मार डाला। वन विभाग व्दारा जंगली हाथियों के उत्पात से सुरक्षा नहीं दे पाने की बात से इस अंचल के आधा दर्जन गांव के लोगों में आक्रोश व्याप्त है।
धरमजयगढ़ वन मंडल अधिकारी प्रनय मिश्रा ने आज बताया कि सरगुजा और जशपुर वन मंडल के जंगलों में विचरण कर रहा गौतमी नामक जंगली हाथियों का दल दो दिन से मैनपाठ की तराई वाला विजयनगर ग्राम पंचायत के गांवों में डेरा डाले हुए है। उन्होने बताया कि उत्पाती हाथियों के इस दल ने आज बीती रात सुरपारा गांव में मानसिंह किसान के घर में तोड़ फोड़ की थी। किसान के घर में घुस आए इन हाथियों से बचने के लिए बिमला बाई 25 वर्ष अपनी 3 माह की अबोध बच्ची को लेकर जब बाहर भागने लगी तो एक हाथी ने दोनों को कुचल कर मार डाला। उत्पाती हाथियों ने इस किसान का घर तहस नहस करने के साथ वंहा रखा पूरा अनाज भी चट कर डाला।
धरमजयगढ़ जनपद अन्तर्गत ग्राम पंचायत विजयनगर की महिला सरपंच श्रीमती रूपवती राठिया ने  बताया कि दो दिन पहले भी हाथियों के इस दल ने टेड़ासेमर तथा आस पास के गांवों में पहुंच कर किसानों की फसल एवं तीन घरों को क्षति पहुंचाई थी।उन्होने कहा कि इन दिनों किसानों की फसल के साथ हाथियों का दल घरों को तहस नहस कर देने से इस अंचल के ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है।