ऑटो मोबाइल

मध्य प्रदेशहरदा

हरदा जिले के टिमरनी में अज्ञात कारणों के चलते महिला ने लगाई आग ,हुई मौत

महिला की जलने से मौत, कारण अज्ञात

म्रतिका महिला की यह है दोनों बेटीयां चर्चा करती पुलिस टीम
640Views
Spread the love

साथ में पलंग पर सोया देड़ वर्षीय बालक भी आग की चपेट में आने से झुलसा

असं टिमरनी – गुरूवार शुक्रवार की दरम्यानी रात्रि में मनियाखेडी़ ग्राम पंचायत के अंतर्गत आने वाले ग्राम भायली में अज्ञात कारणों के चलते एक महिला शोभा पति संतोष कुशवाह उम्र लगभग 40 वर्ष ने केरोशिन डालकर आग लगा ली यह घटनख उस समय की है जब महिला अपने घर में मात्र अपनी एक बेटी व एक देड़ वर्ष के बेटे के साथ घर में सो रही थी वही महिला का पति ड्रायवर करता है जो गाडी़ चलाने चला गया था उक्त घटना की जानकारी जैसे ही महिला के जोर जोर से चिल्लाने की आवाज आसपडो़स में रहने वाले नागरिकों व म्रतका के ससुराल वाले लोगों ने सुनी की वे तत्काल उठे उसे उपचार हेतू तत्काल नगर स्वास्थ केंन्द्र ले जाया गया जहां से उसे डां राजेश मीणा ने प्राथमिक उपचार देकर उसकी हालत गंभीर होने के कारण उसे जिला चिकीत्सालय रेफर कर दिया गया जहां से भी उसे भोपाल रेफर कर दिया गया !जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई !
घटना की जानकारी लगते ही तत्काल पुलिस भी मौके पर पहूंची जिनमें टीआई मनोज सिंग,ए एस आई संतोष रघुवंशी,प्रधान आरक्षक निलेश तिवारी आदि शामिल है जहां पुलिस ने मौका मुआयना कर पंचनामा बनाया गया !
जहां पुलिस उक्त मामले को लेकर गंभीर बनी हुई है तथा यह घटना का कारण पता लगाने में जुट गई है
यह मामले की जांच को लेकर हरदा से एफ एस एल अधिकारी एवं प्रशिक्षण ले रहे डीएसपी रवि शर्मा,अमिता ए जौहरी,महिला आरक्षक शारदा तिवारी,आरक्षक राजेश बंमरेले आदि भी घटना स्थल पहूंचे जहां एफ एस एल टीम ने घटना स्थल की बारीकी देखी तथा मौका पंचनामा बनाया !
परिजनों के बताये अनुसार म्रतिका का एक पुत्र व दो पुत्रीया हैं।

म्रतिका महिला की यह है दोनों बेटीयां चर्चा करती पुलिस टीम

देड़ वर्षीय बेटा भी सोया था महिला के बाजू में बह भी झुलसा

उक्त म्रतका महिला शोभा के बाजू में उसका देड़ वर्षीय बेटा भी वही पलंग पर सो रहा था जिस पलंग पर महिला ने आग लगाई जो देड़ वर्षीय बेटा गौरव पिता संतोष उम्र लगभग देड़ वर्ष भी आग की लपटों में बुरी तरह झुलस गया जिसे भी भोपाल ले जाया गया जहां उसका उपचार चल रहा है समाचार लिखे जाने तक बालक की हालत भी गंभीर थी ।

 

टिमरनी घटना स्थल का मौका मुआयना करती पुलिस व एफ एस एल टीम