ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
इंदौरमध्य प्रदेश

इंदौर/ नगर निगम के बजट सत्र में हुआ हंगामा, महापौर ने दर्ज करवाई एफआईआर

इंदौर नगर निगम के बजट सत्र में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का हंगामा

Views

इंदौर। ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में चल रहे इंदौर नगर निगम के बजट सत्र के दूसरे दिन कांग्रेस कार्यकर्ता अंदर घुस आए। पानी की समस्या को लेकर यहां पहुंचे पूर्व पार्षद और वर्तमान पार्षद पति ने पहले परिसर में हंमागा कर कार्यकर्ताओं से नोरबाजी की। इसके बाद बजट सत्र शुरू हुआ तो 100 से ज्यादा कार्यकर्ताओं के साथ जबरन सदन में घुस गए और रोकने पर हाथापाई पर उतर आए।

इसके बाद महापौर के साथ सभी भाजपा पार्षद थाने के बाहर बैठकर भजन करने लगे। उन्होंने इस दिन को नगर निगम के इतिहास का काला दिवस बताया है, वहां मौजूद विधायक महेंद्र हार्डिया ने भी इसे शर्मनाक घटना बताया है। महापौर ने सांसद विधायक और भाजपा पार्षदों के साथ लसुड़िया थाने पहुंचकर धरना दिया और एफआईआर दर्ज करवाते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की।
महापौर मालिनी गौड ने बुधवार को इंदौर नगर निगम में अपना पांचवा और आखिरी बजट पेश किया था।

इस बजट को गुरुवार को चर्चा के बाद पारित किया जाना था। बजट पर जैसे ही चर्चा शुरू हुई चौकसे अपने सभी कार्यकर्ताओं के साथ जबरन सदन में घुस गए और मना करने पर मारपीट करने पर उतारू हो गए। सभापति के मना करने के बाद भी वे भाजपा और निगम के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए अपशब्द का प्रयोग करते रहे।

महापौर ने दर्ज करवाई एफआईआर
महापौर ने कहा कि हमने सत्र के दौरान अधिकारियों से सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता रखने की मांग की थी, लेकिन अधिकारियों ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। वे कांग्रेस सरकार के दबाव में काम कर रहे हैं। सैकड़ों कांग्रेसी सदन में घुस आए और भाजपा के पार्षदों और एमआईसी सदस्यों के साथ हाथापाई की है। उन्होंने धारा 144 का उल्लंघन किया है। इसलिए लसुड़िया थाना पहुंचकर एफआईआर दर्ज करवाते हुए दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

भारतपोस्ट का ऐप डाउनलोड करने के लिए यंहा क्लिक करे