ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
छत्तीसगढ़रायपुर

जशपुरिहा राज काज

Views

रमेश शर्मा

अधर में लटक गई मुख्यमंत्री की नरवा,गरवा,घुरवा,गोठान की योजना

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार की पहली बेहद अहम नरवा,गरवा,घुरवा व गोठान की योजना ज्यादातर गांवों में पानी की विकराल समस्या के चलते अभी तक अधर में लटकी हुई है।

इस योजना को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भले ही बेहद गंभीर हों लेकिन जशपुर अंचल का सरकारी अमला इस योजना को अभी तक फाईलों में लेकर ही बैठा है। मुख्यमंत्री का मानना है कि गांवों में गोठान बन जाने से गौसंवर्धन और आजीविका के विकास के साथ किसानों को मवेशियों व्दारा फसल चरने की समस्या से छुटकारा मिल सकेगा। किसानों को खरीफ के साथ रबी की फसल का रकबा बढ़ाने में भी मदद मिल सकेगी। लेकिन विडम्बना यह है कि कांग्रेस सरकार की पहली कल्याणकारी योजना का अभी तक एक भी माडल तैयार नहीं हो पाया है।

पत्थलगांव जनपद अन्तर्गत ग्राम पंचायत सुरेशपुर और बहनाटांगर का चयन कर यंहा नरवा,घुरवा योजना का माॅडल तैयार किया जाना था। लेकिन दुर्भाग्यवश  इन दोनों जगह पानी की विकराल समस्या आड़े आ जाने के बाद नरवा,गरवा,घुरवा वं गोठान का काम अधर में लटक गया है। इस योजना का क्रियान्वयन करने वाला सरकारी अमला के पास इस योजना की प्रगति को लेकर फिलहाल कोई जवाब नहीं है।

अमेठी के बाद जशपुरिहा विधायक ने दिखाया भोपाल में जलवा

कांग्रेस के जशपुरिहा विधायक यूडी मिंज ने अमेठी के बाद भोपाल पहुंच कर पार्टी के नेताओं की खूब वाहवाही लुर्टी। दरअसल, युवाओं में अच्छी पैठ के चलते यूडी मिंज को सबसे पहले राहुल गांधी का अमेठी चुनाव क्षेत्र में प्रचार प्रसार के लिए बुलाया गया था। अमेठी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल,विधानसभा अध्यक्ष चरणदास मंहत एवं वरिष्ठ मंत्री मोहम्मद अकबर,उमेश पटेल को इनका प्रचार प्रसार का तरिका काफी पंसद आया था। कांग्रेस के इन नेताओं ने अमेठी के बाद भोपाल पहुंच कर बातों ही बातों में पार्टी के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को भी जशपुरिहा विधायक की खूबी बता दी।

भोपाल में रह कर इंजिनियरिंग का अध्यापन करने वाले जशपुरिहा विधायक को दिग्गी राजा ने तत्काल अपने पास बुला लिया। भोपाल में जशपुर से भी ज्यादा परिचितों की भीड़ इक्टठा कर लेने से दिग्गी राजा ने कई बार इस जशपुरिहा विधायक की पीठ थपथपाई । दिग्गी राजा की पत्नी श्रीमती अमृता सिंह ने भी जशपुरिहा विधायक के काम काज की कई जगह सराहना की है। ऐसा कहा जा रहा है कि अमेठी के बाद भोपाल पहुंच कर कांग्रेस के पक्ष में चुनाव प्रचार करने वाले जशपुरिहा विधायक यूडी मिंज को इस मेहनत के बदले जल्द ही अच्छा ईनाम मिल सकता है।

 

वन अमला की विफलता देख कर महिलाओं ने सम्हाला  मोर्चा

जशपुर के आस पास वनों में अवैध कटाई को रोक पाने में वन विभाग की विफलता को देख कर जशपुर की महिलाओं के स्वसहायता समूह ने हरियाली की सुरक्षा का बीडा उठाया हैं , जशपुर में बेलपहाड़ के समीप तेतरटोली की 20 महिलाओं ने सबसे पहले समिति का गठन कर आपस में बारी बारी वनों की सुरक्षा का काम शुरू किया था। महिलाओं की इस पहल की सराहना करते हुए अब कई लोग भी इस नेक काम में जुड़ गए हैं। हरियाली की सुरक्षा करने वाली महिलाऐं आस पास के जंगलों में टांगी लेकर जाने वालों से सघन पूछ ताछ कर उन्हे पहले समझाईश देती हैं। इसके बाद भी जंगल की हरियाली को  क्षति पहुंचाने वालों को पकड़ पर पुलिस अथवा वन विभाग के अधिकारियों को सौंप दिया जा रहा है।  इन महिलाओं का पर्यावरण के प्रति प्रेम देख कर जशपुर के समाजसेवियों ने इन्हे दूरबीन भी मुहैया करा दी है। उंचे पहाड़ पर बैठ कर ये महिलाऐं वनों की सुरक्षा का अनोखा लेकिन सराहनीय कार्य को अच्छे से अंजाम दे रही है।

कलेक्टर ने शुरू की पुराने जल स्त्रोंतों बचाने की पहल

जशपुर अंचल में तेजी से हो रही भू जल स्तर की गिरावट को रोकने की खातिर कलेक्टर निलेश क्षीरसागर ने अच्छी पहल शुरू की है। इसके तहत जिला मुख्यालय में पेयजल स्त्रोंतों को बेहतर रखने वाला तिवारी नाला की साफ सफाई का अभियान शुरू कराया। इस अभियान में सबसे पहले कलेक्टर ने अपने हाथों में कुदाल लेकर नाले में भरा पड़ा कचरे की साफ सफाई की। इस काम में अब सरकारी अमला के साथ स्वयंसेवी संस्था के लोग भी अपनी भागीदारी निभा रहे हैं।

जशपुर नगर पालिका अधिकारी बसंत बुनकर ने बताया कि पहले इस तिवारी नाला में पानी भरा रहने से शहर में कुओं और हेंडपम्प का जल स्तर में गिरावट नहीं आ पाती थी। अब फिर इस नाले को पुनर्जिवित कर भू जल स्तर में लगातार हो रही गिरावट को रोकने की सार्थक पहल की जा रही है। जशपुर का तिवारी नाला में जुरगुम से  अंतिम छोर तक साफ सफाई का काम कराया जा रहा है। इसके बाद बन्द पड़े अन्य जल स्त्रोंतों को भी पुनर्जिवित करने का काम को जारी रखा जोगा।

”  दिव्यागों की मदद की आड़ में आर्थिक घोटाला “

दिव्यागों को मदद करने का कार्य को अमूमन पूण्य का कार्य समझा जाता है लेकिन जशपुर जिले में सरकारी अमला ने दिव्यागों की मदद करने की आड़ में भी बड़ा घोटाला कर डाला है। इस घोटाला की जानकारी मिलने के बाद जिला कांग्रेस अध्यक्ष पवन अग्रवान ने जिला कलेक्टर को पूरे मामले की जांच कराने का आग्रह किया है। श्री अग्रवाल ने बताया कि विधानसभा चुनाव के दौरान दिव्यांगों को मतदान करने के लिए प्रत्येक मतदान केन्द्र में व्हील चेयर की व्यवस्था कराने के निर्देश मिले थे। इसके तहत मतदान स्थल तक पक्के रैंप भी बनवाऐ गऐ थे। जिला कांग्रेस अध्यक्ष पवन अग्रवाल  का आरोप है कि पत्थलगांव विधानसभा अन्तर्गत कांसाबेल जनपद में 106 और पत्थलगांव जनपद में 163 व्हील चेयर की खरीदी में संबंधित अधिकारी ने बगैर निविदा के ही मनमाने ढ़ंग से इन कुर्सियों की खरीदी कर ली गई थी। श्री अग्रवाल का कहना है कि इस मामले में नियमों की अनदेखी में भारी बार्थिक अनियमितता बरते जाने की शिकायतें मिली हैं। इसकी जांच करा कर दोषी अधिकारी के विरूध्द दंडात्मक कार्रवाई के लिए कलेक्टर से आग्रह किया गया है

“सरकारी शराब दूकान में हो गई रहस्यमय ढंग से चोरी”

जशपुर जिले में बगीचा स्थित सरकारी शराब दूकान का ताला तोड़कर अज्ञात चोरों ने वंहा रखे साढ़े छै: लाख रुपये की नगद रकम पर हाथ साफ कर दिया. इन चोरों ने चोरी का अपराध भले किया है, लेकिन सभी भले आदमी प्रतीत हो रहे हैं. आबकारी अधिकारी के अनुसार इन चोरों देर रात को ताला तोड़कर भी नगदी रकम के अलावा किसी अन्य चीज पर हाथ भी नहीं लगाया.
रविवार को देर रात हुई चोरी के इस मामले में आबकारी उप निरीक्षक शीला रानी एक्का ने सोमवार शाम  बगीचा थाने मे रिपोर्ट दर्ज कराई है. आबकारी अधिकारी का कहना है कि अज्ञात चोरों ने इस दूकान में रखी मंहगी अथवा सस्ती किसी भी शराब की बोतलों पर हाथ नहीं लगाया है.

इधर बगीचा थाना प्रभारी विकास शुक्ला ने बताया कि सरकारी शराब दूकान में चोरी के मामले की प्रारंभिक जांच में यह मामला सन्देहास्पद प्रतीत हो रहा है. उन्होंने कहा कि शराब दूकान में तैनात आबकारी विभाग का चौकीदार विजय गुप्ता ने घटना की रात दो बजे से आज प्रातः 9 बजे तक आनुपस्थित रहना बताया गया है. इसी समय अज्ञात चोरों ने सरकारी दूकान का ताला तोड़कर चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया है.सरकारी शराब दूकान में देर रात के समय चौकीदार की अनुपस्थिति की
बात पर विभाग के अधिकारी भी चुप्पी साधे हुए हैं.
उन्होंने कहा कि फिलहाल पुलिस ने बगीचा सरकारी शराब दूकान में अज्ञात चोरों के व्दारा साढ़े छै: लाख रुपये नगद चोरी की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है.इस मामले की जांच कर जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाऐगा. उन्होंने कहा कि सरकारी शराब दूकान में प्रति दिन की बिक्री की रकम को अधिकारी के पास जमा कराया जाता है लेकिन तीन दिनों से बिक्री की रकम को जमा नहीं करना बताया जा रहा है.