ऑटो मोबाइल

इंदौरइलेक्शन 19ग्वालियरछतरपुरजबलपुरन्यूज़भोपालमध्य प्रदेशवीडियोहरदा

किसानों के लिए बड़ी खबर – नहीं बंद होगी भावान्तर योजना बल्कि नए रूप में आएगी

ऐसा हो सकता है भावान्तर का नया रूप

65.8KViews
Spread the love

मान्या वत्स, भारत पोस्ट – भोपाल 

प्रदेश के नए मुखिया कमलनाथ ने कहा की भावान्तर योजना बंद नहीं की जाएगी बल्कि बदले हुए रूप में शीघ्र ही लागु की जाएगी, पुरानी योजना की कमियों को दूर किया जाएगा. वहीँ सरकार का प्रयास है की किसानों की कर्ज माफ़ी के फॉर्म 5 फ़रवरी तक भरवा लिए जाएँगे और लोकसभा चुनाव को मद्देनज़र रखते हुए आचार संहिता लगने से पहले ही किसानों को लाभ दे दिया जाएगा.

जय किसान ऋण माफ़ी योजना शुरू – देखें video

मुख्यमंत्री ने ऋण माफ़ी को लेकर उठाये जा रहे प्रश्नों पर को सिरे से नकारते हुए कहा की भाजपा के लोग बजट प्रावधानों उन्हें न समझाएं, उन्होंने यह भी कहा की वे बजट प्रावधानों को अच्छी तरह से जानते हैं. मुख्यमंत्री का यहाँ यह भी कहना था की उन्होंने किसानों की कर्ज माफ़ी के विषय में अध्ययन चुनाव से पहले ही कर लिया था. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी सलाह देता हूं कि वे आंकड़े पेश करने के बजाय आम जनता और किसानों को हिसाब किताब दें.

यहाँ क्लिक करके देखें – मुख्यमंत्री कमलनाथ ने क्या कहा कर्ज माफ़ी पर – देखें पूरा वीडियो और जानें किसानों क्या करना होगा कर्ज माफ़ी के लिए .  

 

ऐसा हो सकता है भावान्तर का नया रूप : किसानों को सामान मूल्य पर प्रति क्विंटल राशि दी जाएगी। इसमें लहसुन पर 800 रुपए, प्याज पर 400 रुपए एवं  सोयाबीन व मक्का पर 500-500 रुपए प्रति क्विंटल फ्लेट भावांतर की राशि दी जाएगी। इसका आकलन  प्रति हेक्टेयर में होने वाली औसत प्रति क्विंटल फसल उत्पादन के आधार पर होगा। सरकार इस स्कीम का नाम  किसान समृद्धि योजना अथवा फ्लेट भावांतर योजना रखने जा रही है। आगामी दिनों में इस योजना में अन्य फसलें भी शामिल होंगी।

सामान्य वर्ग को 10% आरक्षण के मामले में सरकार परीक्षण करा रही है: मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में सामान्य वर्ग के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण पर अभी परीक्षण करवा रहे हैं। इसमें यह देखा जा रहा है कि प्रदेश में जो लागू व्यवस्था है, उसमें सामान्य वर्ग को कैसे आरक्षण दिया जा सकेगा।