ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
दिल्लीन्यूज़

Pariksha Pe Charcha 2019: पीएम मोदी ने दिए सफलता के मंत्र, स्टूडेंट्स बेफिक्र होकर यूं करें परीक्षा की तैयारी

Pariksha Pe Charcha 2019: PM Modi's mantra of success, students become anxious and prepare for the exam

Views

डेस्क :

परीक्षा पे चर्चा (Pariksha Pe Charcha) की शुरुआत हो गई है. ये परीक्षा पे चर्चा का दूसरा (Pariksha Pe Charcha 2.0) संस्करण हैं. प्रधानमंत्री मोदी (Pm Narendra Modi) इस कार्यक्रम में अभिभावकों से तनाव-रहित परीक्षा एवं संबंधित पहलुओं पर चर्चा कर रहे हैं. PM नरेंद्र मोदी ने स्कूली विद्यार्थियों के साथ ‘परीक्षा पर चर्चा’ के दौरान कहा, “दबाव से परिस्थिति बिगड़ जाती है, बच्चे पर परीक्षा का दबाव न बनाएं. माता-पिता को भी ध्यान रखना चाहिए कि बच्चे पर अनावश्यक दबाव न बनाया जाए. माता-पिता को बच्चों पर अपने सपने नहीं थोपने चाहिए.” बता दें कि इस परिचर्चा में देशभर से और 20 से अधिक देशों के विद्यार्थी भाग ले रहे हैं.

वही भी देखिये :

लोकसभा चुनाव से पहले BJP को झटका: दो नेताओं ने थामा AAP का हाथ, कहा- केजरीवाल के काम से हुए प्रभावित

 

Pariksha Pe Charcha 2019 :

29 जनवरी 2019, 12:38 PM: आप अपनी तुलना अपने पुराने रिकॉर्ड से कीजिए, आप कंपटीशन अपने रिकॉर्ड से कीजिए, आप अपने रिकॉर्ड ब्रेक कीजिए, आप अगर खुद के रिकॉर्ड ब्रेक करेंगे तो आपको कभी भी निराशा के गर्त में डूबने का मौका नहीं मिलेगा – पीएम मोदी

29 जनवरी 2019, 12:38 PM: पीएम ने कहा, जीवन को विस्तृत कर दें, जीवन से सीखना शुरू कर दें, आपकी जिंदगी बदलेगी.

29 जनवरी 2019, 12:38 PM: टीचर सिलेबस का ज्ञान तो देता है, लेकिन जिंदगी में उस ज्ञान को कैसे उतारना है ये नहीं बताता. – पीएम मोदी

29 जनवरी 2019, 12:30 PM: मां-बाप और शिक्षकों को बच्चों की तुलना नहीं करनी चाहिए. इससे बच्चों पर बुरा प्रभाव पड़ता है. हमें हमेशा बच्चों को प्रोत्साहित करना चाहिए:  पीएम मोदी

29 जनवरी 2019, 12:30 PM: आपको खुद पर विश्वास होना चाहिए, आपकी कोई तारीफ करे या न करे,  आप अपने मन में बना लें कि मैं खुद एक ऐसी स्थिति पैदा करूंगा कि टीचर मुझे नोटिस करे.

29 जनवरी 2019, 12:26 PM: अभिभावकों का सकारात्मक रवैया बच्चे की जिंदगी की बहुत बड़ी ताकत बन जाता है: PM Modi

29 जनवरी 2019, 12:12 PM: एक छात्रा ने सवाल किया कि हर बच्चे का टैलेंट और इंटरेस्ट अलग होता है. इस पर पीएम ने कहा- हर कोई बच्चों को अलग-अलग सलाह देता है और उससे बच्चे कन्फ्यूज हो जाते हैं. ऐसे में बच्चे को खुद यह पहचानना होगा कि उसे क्या करना अच्छा लगता है. उसका पैशन क्या है?

29 जनवरी 2019, 12:12 PM: एग्जाम को हम एक अवसर माने तो इसमें मजा आएगा. मेरा तो सिद्धांत है कि कसौटी कसती है, कसौटी कोसने के लिए नहीं होती है – पीएम मोदी

29 जनवरी 2019, 12:10 PM: जो सफल लोग होते हैं, उन पर समय का दबाव नहीं होता है. ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने अपने समय की कीमत समझी होती है: पीएम मोदी

29 जनवरी 2019, 12:00 PM: लक्ष्य साफ होने चाहिए.