ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
इलेक्शन 19भोपालमध्य प्रदेश

लोकसभा चुनाव/ गोडसे को देशभक्त कहने वाली प्रज्ञा ठाकुर ने मांगी माफी

रोड शो के दौरान साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त कह दिया

Views

लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार फिर विवादित बयान दिया, मगर जब बवाल मचा तो माफी भी मांग ली। उन्होंने कहा कि अगर बयान से किसी की भावनाएं आहत हुई हों तो मैं उसके लिए माफी मांगती हूं। प्रज्ञा ने कहा कि गांधीजी ने जो देश के लिए किया, उसे भुलाया नहीं जा सकता। उनके बयान पर चुनाव आयोग ने भी शुक्रवार तक रिपोर्ट मांगी है। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने बयान देने के पांच घंटे बाद माफी मांग ली। उनका एक वीडियो भी जारी हुआ है। इस बीच कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को घेरते हुए जवाब मांगा है।

प्रज्ञा ठाकुर ने अपने बयान पर कहा- यह मेरी निजी राय थी। मेरा इरादा किसी की भावनाएं भड़काने का नहीं था। अगर मैंने किसी को आहत किया हो तो उसके लिए माफी मांगती हूं। मेरे बयान को मीडिया ने तोड़ा-मरोड़ा।

हम प्रज्ञा के बयान से सहमत नहीं- भाजपा

जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि भाजपा साध्वी प्रज्ञा के इस बयान से सहमत नहीं है। हम इसकी निंदा करते हैं। पार्टी उनसे इस बारे में स्पष्टीकरण मांगेगी और उन्हें इसके लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए।

चुनाव आयोग को भेजी रिपोर्ट

इस मामले में चुनाव आयोग ने रिपोर्ट तलब कर ली थी। देर रात कलेक्टर ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने बताया कि रिपोर्ट चुनाव आयोग को भेज दी गई है।

कमल हासन के बयान पर प्रतिक्रिया मांगी थी

रोड शो के दौरान गोडसे को देश का पहला हिंदू आतंकी बताने संबंधी अभिनेता कमल हासन के बयान पर पत्रकारों ने प्रज्ञा से प्रतिक्रिया मांगी थी। इस पर उन्होंने कहा कि नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। गोडसे को आतंकी कहने वाले लोग अपने गिरेबां में झांकें। ऐसे लोगों को इन चुनावों में जवाब दे दिया जाएगा। एक अन्य जवाब में प्रज्ञा ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा आतंकियों को सम्मानित किया है, उनका साथ दिया है और देशभक्तों को प्रताडि़त किया है। उनके लोग कभी उनको ‘जी’ कहते हैं, कभी साहब। ये उनका चरित्र है।

भारत पोस्ट ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें