ऑटो मोबाइल

- Advertisement -
Uncategorizedइंदौरनेशनलमध्य प्रदेश

यूपीएससी (UPSC) का रिजल्ट घोषित, आल इंडिया रैंक में पहले स्थान पर आये कनिष्क

Views

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने सिविल सेवा परीक्षा- 2018 का फाइनल रिजल्ट घोषित कर दिया। 27 साल के कनिष्क ने आल इंडिया लेवल पर पहला स्थान हासिल किया है। कनिष्क कटारिया एक करोड़ रुपए के सालाना पैकेज पर साउथ कोरिया में सैमसंग में काम करते थे। वहां से नौकरी छोड़कर बेंगलुरू आए और डेटा साइंटिस्ट के तौर पर काम करने लगे। कनिष्क ने बताया कि- ‘प्राइवेट कंपनी में नौकरी करते हुए मेरी सोच बदली। मेरी इच्छा थी कि अपने देश में कुछ अच्छा करूं। इसलिए विदेश छोड़कर लौट आया। कनिष्क ने कहा “अब में सिस्टम में शामिल होकर सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगा।”

मध्य प्रदेश में भी बच्चो का बेहतरीन प्रदर्शन
मेरिट में 5वें नंबर पर भोपाल के कस्तूरबा नगर की रहने वाली सृष्टि जयंत देशमुख हैं, जाे महिलाओं में अव्वल हैं। सृष्टि ने आरजीपीवी से पढ़ाई है। वे केमिकल इंजीनियरिंग से एमफिल कर चुकी हैं। वे भी पहले प्रयास में सफल हुईं। सृष्टि देशमुख ने कहा- “कॉलेज के दौरान मैने कभी कैंपस प्लेसमेंट के लिए नाम नहीं दिया। ठान रखा था कि सिर्फ आईएएस अफसर बनना है। बस यही मेरा डबल मोटिवेशन था और मैं तैयारी करती चली गई और सफल हुई।

 

इंदौर के पेट्रोल पंप कर्मचारी के बेटे की 93वीं रैंक
इंदौर के देवास नाका क्षेत्र में रहने वाले पेट्रोल पंप कर्मचारी मनोज सिंह के पुत्र प्रदीप ने ऑल इंडिया 93वीं रैंक हासिल की है। डीएवीवी के इंटरनेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज से 2017 में बीकॉम ऑनर्स की पढ़ाई पूरी करने वाले प्रदीप ने फर्स्ट अटेंप्ट में ही यह परीक्षा पास की है। प्रदीप ने कहा- बचपन से ही सपना था कि कुछ कर दिखाऊं। जब बीकॉम ऑनर्स में एडमिशन लिया था, तभी से सपना था कि कुछ बनना है। कुछ साल पहले मैंने इसकी कल्पना भी नहीं की थी कि बेटा देश में नाम रोशन करेगा। मैं बहुत खुश हूं।